back to top
Saturday, July 13, 2024
HomeLyricsItnaa To Karnaa Svaami Lyrics / इतना तो करना स्वामी लिरिक्स

Itnaa To Karnaa Svaami Lyrics / इतना तो करना स्वामी लिरिक्स

Itnaa To Karnaa Svaami Lyrics । इतना तो करना स्वामी लिरिक्स

प्रिय भक्तों, आज हम एक ऐसे भजन पर विचार करेंगे जो हमारी आत्मा को भगवान के साथ जोड़ता है। Itnaa To Karna Svaami Lyrics एक भक्त की सच्ची पुकार है, जिसमें वह भगवान से अपने जीवन की परेशानियों का हल मांगता है। इतना तो करना स्वामी लिरिक्स के शब्द हमें यह सिखाते हैं कि सच्चे मन से की गई प्रार्थना कभी व्यर्थ नहीं जाती। आइए, lyrics of itna to karna swami के माध्यम से भगवान की महिमा को समझें।

Itnaa To Karnaa Svaami Lyrics / इतना तो करना स्वामी लिरिक्स

इतना तो करना स्वामी भजन लिरिक्स

        इतना तो करना स्वामी, जब प्राण तन से निकले
        इतना तो करना स्वामी, जब प्राण तन से निकले
        गोविन्द नाम लेके, गोविन्द नाम लेके
        गोविन्द नाम लेके, तब प्राण तन से निकले
        इतना तो करना स्वामी, जब प्राण तन से निकले

        श्री गंगा जी का तट हो, जमुना का वंशीवट हो
        श्री गंगा जी का तट हो, जमुना का वंशीवट हो
        श्री गंगा जी का तट हो, जमुना का वंशीवट हो
        मेरा सांवरा निकट हो, जब प्राण तन से निकले
        इतना तो करना स्वामी, जब प्राण तन से निकले

        पीताम्बरी कसी हो, छवि मन में ये बसी हो
        पीताम्बरी कसी हो, छवि मन में ये बसी हो
        होठों पे कुछ हसी हो, जब प्राण तन से निकले
        इतना तो करना स्वामी, जब प्राण तन से निकले
        गोविन्द नाम लेके, तब प्राण तन से निकले

        जब कंठ प्राण आए, कोई रोग ना सताए
        जब कंठ प्राण आए, कोई रोग ना सताए
        जब कंठ प्राण आए, कोई रोग ना सताए
        जम दर्शना दिखाए, जब प्राण तन से निकले
        जम दर्शना दिखाए, जब प्राण तन से निकले

        उस वक्त जल्दी आना, नहीं श्याम भूल जाना
        उस वक्त जल्दी आना, नहीं श्याम भूल जाना
        राधे को साथ लाना, जब प्राण तन से निकले
        इतना तो करना स्वामी, जब प्राण तन से निकले
        गोविन्द नाम लेके, तब प्राण तन से निकले

        इक भक्त की है अर्जी, खुदगर्ज की है गरजी
        इक भक्त की है अर्जी, खुदगर्ज की है गरजी
        इक भक्त की है अर्जी, खुदगर्ज की है गरजी
        आगे तुम्हारी मर्जी, जब प्राण तन से निकले
        आगे तुम्हारी मर्जी, जब प्राण तन से निकले

        गोविन्द नाम लेके, गोविन्द नाम लेके
        गोविन्द नाम लेके, तब प्राण तन से निकले
        इतना तो करना स्वामी, जब प्राण तन से निकले
        इतना तो करना स्वामी, जब प्राण तन से निकले
        जब प्राण तन से निकले
        जब प्राण तन से निकले
    

Itnaa To Karnaa Svaami Video

Itnaa To Karnaa Svaami Lyrics

आशा है कि आपने Itna To Karna Swami Lyrics के इस भजन के माध्यम से भगवान की कृपा का अनुभव किया होगा। इतना तो करना स्वामी लिरिक्स हमें यह याद दिलाता है कि भगवान हमेशा हमारे साथ हैं और हमारी हर पुकार को सुनते हैं। itna to karna swami lyrics in hindi के माध्यम से हम भगवान की असीम कृपा का अनुभव कर सकते हैं।

Also read: Nagri Ho Ayodhya Si Lyrics – नगरी हो अयोध्या सी भजन

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments