back to top
Saturday, July 13, 2024
HomeLyricsShiv Kailasho Ke Vasi Lyrics / शिव कैलाशो के वासी भजन

Shiv Kailasho Ke Vasi Lyrics / शिव कैलाशो के वासी भजन

Shiv Kailasho Ke Vasi Lyrics

श्री शिव महादेव की महिमा अपरंपार है। कैलाश पर्वत के वासी भगवान शिव की स्तुति में गाए जाने वाले भजन ‘शिव कैलाशो के वासी’ का विशेष महत्व है। इस भजन में भोलेनाथ के विभिन्न रूपों और गुणों का वर्णन किया गया है। आज हम इस पवित्र भजन के बारे में विस्तार से जानेंगे। Shiv Kailasho Ke Vasi Lyrics में शिव जी के त्रिनेत्र, डमरू, त्रिशूल और नागों के आभूषणों का उल्लेख है। यह भजन भक्तों को शिव जी के दर्शन का अनुभव कराता है और उनकी कृपा प्राप्त करने में सहायक होता है। आइए इस भजन के गहन अर्थ और महत्व को समझें।

Shiv Kailasho Ke Vasi Lyrics / शिव कैलाशो के वासी भजन

शिव कैलाशों के वासी भजन लिरिक्स

शिव कैलाशों के वासी, धौलीधारों के राजा शंकर संकट हरना, भोले शंकर संकट हरना
तेरे कैलाशों का अंत ना पाया तेरे कैलाशों का अंत ना पाया अंत बेअंत तेरी माया, भोले अंत बेअंत तेरी माया
बेल की पत्तीयां भांग धतूरा बेल की पत्तीयां भांग धतूरा शिवजी के मन को लुभाए शिवजी के मन को लुभाए
एक था डेरा तेरा चंबेरे चगाना एक था डेरा तेरा चंबेरे चगाना दूजा लाई दीतता भर मोरा दूजा लाई दीतता भर मोरा
शिव कैलाशों के वासी, धौलीधारों के राजा शंकर संकट हरना, भोले शंकर संकट हरना, बाबा शंकर संकट हरना, भोले शंकर संकट हरना
यह भजन समर्पित है भोले शंकर के भक्तों को।

Shiv Kailasho Ke Vasi Lyrics Video

Shiv Kailasho Ke Vasi Lyrics Video

अंततः, ‘शिव कैलाशो के वासी’ भजन हमें शिव जी की महानता और उनकी दिव्य शक्तियों का स्मरण कराता है। Shiv Kailasho Ke Vasi Lyrics के माध्यम से हम शिव जी के विभिन्न रूपों और गुणों को समझ सकते हैं। यह भजन हमें शिव जी की भक्ति में डूबने और उनकी कृपा प्राप्त करने का मार्ग दिखाता है। आइए हम सभी इस पवित्र भजन को अपने हृदय में बसाएं और शिव जी के आशीर्वाद से अपना जीवन धन्य करें।

Also read: Sajado Ghar Ko Gulshan Sa Lyrics /  सजा दो घर को गुलशन सा, मेरे सरकार आये है भजन लिरिक्स

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments